Search
Close this search box.
> Nirjala Vrat Upay 2024 निर्जला एकादशी व्रत उपाय: भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी को ऐसे करें प्रसन्न, आर्थिक समस्याएं होंगी दूर

Nirjala Vrat Upay 2024 निर्जला एकादशी व्रत उपाय: भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी को ऐसे करें प्रसन्न, आर्थिक समस्याएं होंगी दूर

Nirjala Ekadashi Vrat Remedy: Make Lord Vishnu and Mother Lakshmi happy in this way, financial problems will go away

निर्जला एकादशी व्रत उपाय, इंदौर: हिंदू धर्म में निर्जला एकादशी व्रत का विशेष महत्व है। यह व्रत भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी को समर्पित होता है और जेष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी को किया जाता है। इस साल यह व्रत 18 जून को रखा जाएगा।

मान्यता है कि इस व्रत के दौरान अन्न-जल का सेवन नहीं किया जाता। इस व्रत को करने से भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है और आर्थिक समस्याओं से छुटकारा मिलता है। हिंदू शास्त्रों के अनुसार, निर्जला एकादशी व्रत करने से 24 एकादशियों के बराबर फल प्राप्त होता है।

इस व्रत से यश, सम्मान और सुख में वृद्धि होती है।
व्रत करने वाले को मोक्ष की प्राप्ति होती है।
आर्थिक समस्याओं से भी छुटकारा मिलता है।
इस व्रत के दौरान कुछ उपाय करने से कई समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है। यहां हम आपको निर्जला एकादशी व्रत से जुड़े उपाय बता रहे हैं:

निर्जला एकादशी पर भगवान विष्णु को तुलसी की मंजरी अर्पित करनी चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से भगवान विष्णु प्रसन्न 1होते हैं और आर्थिक समस्याओं से मुक्ति मिलती है। तुलसी की मंजरी को एकादशी से एक दिन पहले ही तोड़कर रख लेना चाहिए। इसके साथ ही इस दिन भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी को श्रीफल भी चढ़ाना चाहिए।
निर्जला एकादशी पर पूजा के दौरान भगवान विष्णु को तुलसी के पत्ते अर्पित करना शुभ माना गया है। मान्यता है कि ऐसा करने से व्रती को मनचाहा जीवनसाथी मिलता है।
अगर आप समस्याओं से घिरे रहते हैं तो पूजा के दौरान भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी को गुड़ से बनी खीर अर्पित करें। माना जाता है कि श्रीहरि और माता को खीर प्रिय है। ऐसा करने से वे प्रसन्न होते हैं और व्रती को तमाम समस्याओं से छुटकारा मिलता है। भगवान को खंडित यानी टूटे चावल की खीर नहीं चढ़ाना चाहिए।

Author
Related Post
ads

Latest Post