Search
Close this search box.
> राष्ट्रपति कोटे से सांसद बनाने के नाम पर दिल्ली के दो लोगों ने एक व्यक्ति से 2 करोड़ की ठगी की

राष्ट्रपति कोटे से सांसद बनाने के नाम पर दिल्ली के दो लोगों ने एक व्यक्ति से 2 करोड़ की ठगी की

Two people from Delhi cheated a person of Rs 2 crore in the name of making him an MP from the President's quota.

ठगी के पैसों से बिहार में संपत्ति भी खरीदी

पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया है और दोनों ही आरोपियों से पूछताछ जारी है। राष्ट्रपति के कोटे से राज्यसभा सीट दिलाने का वादा कर ठगी करने वाले आरोपी को पकड़ा गया है. जानकारी के मुताबिक आरोपी राज्यसभा सीट के नाम पर 2 करोड़ की ठगी कर रहे थें। दोनों आरोपियों के नाम नवीन कुमार सिंह और नानक दास बताया जा रहा है। दोनों आरोपियों की ठगी की शिकायत 25 अप्रैल को दिल्ली के किशनगढ़ के रहने वाले नरेंद्र सिंह ने की थी। शिकायत में कहा गया था कि अगस्त 2023 में वो नानक दास के जरिए नवीन कुमार सिंह से मिले थे। जिसके बाद नवीन कुमार सिंह ने खुद को राष्ट्रपति का प्रोटोकाल अफसर बताया था। जिसके बाद पूछताछ करने पर आरोपी नवीन कुमार ने पुलिस को बताया कि दिल्ली के लक्ष्मी नगर के रहने वाले करन से उसने राष्ट्रपति से जुड़े 2 फर्जी दस्तावेज भी बनवाए और नरेंद्र को भेजे जिससे उसका विश्वास जीता जा सके और इस तरह 2 करोड़ रुपए की ठगी कर ली। पुलिस ने 48 वर्षीय नानक दास को गिरफ्तार किया है नानक दास राजस्थान के नागौर का रहने वाला है जबकि दूसरा आरोपी नवीन कुमार सिंह नोएडा के सेक्टर 36 का रहने वाला है। दोनों को पुलिस में अदालत में पेश किया जहां से इन्हें पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है।

दोनों आरोपियों की ठगी की शिकायत 25 अप्रैल को दिल्ली के किशनगढ़ के रहने वाले नरेंद्र सिंह ने की थी। शिकायत में कहा गया था कि अगस्त 2023 में वो नानक दास के जरिए नवीन कुमार सिंह से मिले थे। जिसके बाद नवीन कुमार सिंह ने खुद को राष्ट्रपति का प्रोटोकाल अफसर बताया था। जिसके बाद पूछताछ करने पर आरोपी नवीन कुमार ने पुलिस को बताया कि दिल्ली के लक्ष्मी नगर के रहने वाले करन से उसने राष्ट्रपति से जुड़े 2 फर्जी दस्तावेज भी बनवाए और नरेंद्र को भेजे जिससे उसका विश्वास जीता जा सके और इस तरह 2 करोड़ रुपए की ठगी कर ली। दोनों आरोपियों ने एक बार एक करोड़ पच्चीस लाख और फिर 75 लाख ट्रांसफर करवा लिया।

Author
Related Post