Search
Close this search box.
> “Singapore Airlines: बैंकॉक में इमरजेंसी लैंडिंग के दौरान सिंगापुर एयरलाइंस के विमान में हादसा, 1 की मौत, 30 घायल”

“Singapore Airlines: बैंकॉक में इमरजेंसी लैंडिंग के दौरान सिंगापुर एयरलाइंस के विमान में हादसा, 1 की मौत, 30 घायल”

"Singapore Airlines: Accident in Singapore Airlines plane during emergency landing in Bangkok, 1 dead, 30 injured"

ओवर बुकिंग: उड़ान में एक घंटे की देरी
सांसें होती रहीं ऊपर-नीचे, बैंकॉक में इमरजेंसी लैंडिंग

इंडिगो का मुंबई से वाराणसी जाने वाला विमान ओवर बुकिंग के कारण सोमवार को एक घंटे देर से उड़ान भर सका। विमान उड़ान भरने के लिए छत्रपति शिवाजी महाराज एयरपोर्ट के रनवे पर पहुंच चुका था, तभी क्रू मेंबर की नजर एक यात्री पर पड़ी, जो विमान में सीट खोज रहा था, जबकि कोई सीट खाली नहीं थी। विमान को फिर से टर्मिनल पर लाया गया और उस यात्री को उतारा गया।

बैंकॉक. लंदन से सिंगापुर जा रही सिंगापुर एयरलाइन की फ्लाइट में खराब मौसम के कारण एयर टर्बुलेंस से एक यात्री की मौत हो गई, जबकि 30 यात्री घायल हो गए। विमान की बैंकॉक में इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई। बोइंग 777-300 ईआर विमान में 211 यात्री और चालक दल के 18 सदस्य सवार थे। इनमें तीन भारतीय यात्री शामिल हैं। उड़ान जब म्यांमार के पास अंडमान के समुद्र के ऊपर से गुजर रही थी, अचानक जबरदस्त टर्बुलेंस शुरू हो गया। तीन मिनट में विमान करीब छह हजार फीट नीचे आ गया। हादसे के समय क्रू मेंबर यात्रियों को नाश्ता दे रहे थे। झटकों से विमान में रखे सामान बिखर गए। जिन यात्रियों ने बेल्ट नहीं लगाए थे वे इधर-उधर लुढ़कने लगे।

मृतक यात्री (73) ब्रिटिश नागरिक बताया जाता है। बैंकॉक के अधिकारियों ने कहा कि मौत शायद दिल का दौरा पड़ने के कारण हुई।

उसकी पत्नी उन 30 घायल यात्रियों में शामिल है, जिन्हें बैंकॉक के अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें सात की हालत गंभीर है। एक यात्री ने बताया कि जिसने भी सीट बेल्ट नहीं पहनी थी, वह सीधा विमान की छत से टकराया। बैंकॉक के सुवर्णभूमि हवाई अड्डे के प्रवक्ता ने बताया कि मेडिकल टीम स्टैंडबाय पर थी।

हवा में विमान के तेजी से हिलने-डुलने को टर्बुलेंस या एयरक्राफ्ट शेकिंग कहा जाता है। टर्बुलेंस से विमान हिचकोले खाने लगता है। वह तेजी से डोलते हुए तय रूट से ऊपर या नीचे आ जाता है। कई बार टर्बुलेंस प्लेन क्रैश की वजह भी बनता है। मौसम में बदलाव या दूसरी वजहों से हवा का बहाव बदलने से टर्बुलेंस के हालात पैदा होते हैं। मानसून अंडमान के करीब पहुंच चुका है और वहां मौसम बदल रहा है।

विमान से टकराकर 40 फ्लेमिंगो मरे:
मुंबई आ रही एमिरेट्स की फ्लाइट से टकराने से करीब 40 फ्लेमिंगो की मौत हो गई। विमान भी मामूली क्षतिग्रस्त हो गया। हालांकि उसकी मुंबई एयरपोर्ट पर सुरक्षित लैंडिंग हो गई। सभी यात्री सुरक्षित हैं। वन विभाग और एनिमल एक्टिविस्ट ने घाटकोपर इलाके में बिखरे फ्लेमिंगो के शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे। इससे पहले भी विमान से पक्षियों के टकराने के कई हादसे हो चुके हैं।

खराब मौसम में फंसा बोइंग 777-300 ईआर जब 37000 फीट की ऊंचाई पर था, अचानक खराब मौसम में फंस गया और महज तीन मिनट में 31,000 फीट पर आ गया। विमान इसी ऊंचाई पर 10 मिनट उड़ान भरता रहा और आधे घंटे बाद इसकी बैंकॉक में इमरेजेंसी लैंडिंग कराई गई। स्थिति को देखते हुए पायलट ने इमरजेंसी लैंडिग का निर्णय लिया। विमान में हिचकोले लगने और इमरजेंसी लैंडिंग के कारण यात्री घबरा गए।

Author
Related Post