Search
Close this search box.
> अहमदाबाद एयरपोर्ट से आइएस के चार आतंकी गिरफ्तार

अहमदाबाद एयरपोर्ट से आइएस के चार आतंकी गिरफ्तार

सफलता: साजिश को अंजाम देने के लिए पहुंचे

गुजरात आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) ने रविवार रात आइएसआइएस के चार आतंकियों को अहमदाबाद एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया है। ये चारों श्रीलंका के रहने वाले हैं और बड़ी आतंकी साजिश को अंजाम देने के इरादे से श्रीलंका से अहमदाबाद पहुंचे थे। इनके तार पाकिस्तान से भी जुड़े हैं। गुजरात के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) विकास सहाय ने बताया कि आतंकियों की पहचान मोहम्मद नुसरत, मोहम्मद फारीस, मोहम्मद रसदीन और मोहम्मद नफरान के तौर पर हुई है। इन चारों के पास भारत का वीजा है। मोहम्मद नुसरत के पास पाकिस्तान का भी वीजा मिला है। ये चारों लोग तमिल भाषा ही जानते हैं। इनसे मोबाइल फोन की जांच से मिले फोटोग्राफ और लोकेशन के आधार गांधीनगर के एक मार्ग से तीन पिस्तौल, 20 कारतूस, आइएस का झंडा बरामद किया है। बरामद कारतूस पर फाटा लिखा है, जिसका अर्थ फेडर्ली एडमिनिस्टर्ड ट्राइबल एरिया (फाटा) है, जो पाकिस्तान में है। प्रथम दृष्टया पिस्तौल, कारतूस पाकिस्तान में बनी हैं। आरोपियों से पूछताछ में पता चला है कि ये भी लोग पाकिस्तान में रह रहे अबू के संपर्क में थे और आइएस की विचारधारा से प्रभावित थे। ये लोग सुसाइड बॉम्बर बनने को भी तैयार थे।

आरोपी श्रीलंका के प्रतिबंधित संगठन नेशनल तौहिथ जमात (एनटीजे) के सदस्य हैं। श्रीलंका सरकार ने ईस्टर धमाकों के बाद 2019 में इस पर प्रतिबंध लगा दिया था। गौरतलब है कि आइपीएल के दो मैच 21 और 22 मई को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले जाने हैं। इन आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस अलर्ट हो गई है।

भाजपा और संघ के नेता निशाने पर

नुसरत के पास से मिले मोबाइल फोन की जांच में खुलासा हुआ कि आरोपियों के निशाने पर यहूदी, ईसाई, भाजपा और आरएसएस के नेता थे। कब, कहां और किस पर हमला करना है, इसकी जानकारी अबू देने वाला था। इन्हें अबू ने श्रीलंका मुद्रा में चार लाख रुपए दिए थे। इसके जरिए इन्होंने श्रीलंका से चेन्नई व अहमदाबाद की टिकट बुक कराई थी।

Author
Related Post