Search
Close this search box.
> नाबालिग के खून का सैंपल बदला, दो डॉक्टर गिरफ्तार

नाबालिग के खून का सैंपल बदला, दो डॉक्टर गिरफ्तार

Minor's blood sample changed, two doctors arrested

पुलिस ने पुणे के पोर्श हादसे के मामले में बड़ा खुलासा करते हुए दो डॉक्टरों सहित तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस कमिश्नर अमितेश कुमार ने बताया कि आरोपी के पिता विशाल अग्रवाल ने डॉक्टरों को ब्लड सैंपल बदलने के लिए घूस दी थी। इसके बाद ससून जनरल हॉस्पिटल के फोरेंसिक विभाग के प्रमुख डॉ. अजय तावरे के निर्देश पर डॉ. श्रीहरि हैलनोर ने नाबालिग आरोपी का असली ब्लड सैंपल डस्टबिन में फेंक दिया था। डॉक्टरों ने किसी और सैंपल लेकर रिपोर्ट बनाई थी, जिससे नाबालिग आरोपी के नशे में होने की बात छिपाई जा सके। एक अन्य आरोपी अतुल घटकांबले को भी डॉक्टरों की मदद करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस ने नाबालिग के पिता के खिलाफ धोखाधड़ी, आपराधिक साजिश और सबूतों से छेड़छाड़ का मामला भी दर्ज किया है। इससे पहले उसके खिलाफ जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत बच्चे पर ध्यान न देने का मामला दर्ज हुआ था।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि हमने नाबालिग के एल्कोहॉल ब्लड टेस्ट दो अलग-अलग अस्पताल में कराए थे। ससून अस्पताल में कराई जांच में रिपोर्ट निगेटिव आई थी, लेकिन दूसरे अस्पताल की रिपोर्ट से उसके नशे में होने की पुष्टि हुई थी। दूसरे अस्पताल से रिपोर्ट आने के बाद हमें ससून अस्पताल की रिपोर्ट पर शक हुआ था। पूछताछ करने पर डॉक्टर हैलनोर ने सैंपल बदलने की बात को स्वीकार किया।

दो पुलिसकर्मी सस्पेंड
में पुलिस आयुक्त ने येरवडा थाने के दो पुलिसकर्मियों को ड्यूटी के दौरान लापरवाही बरतने पर निलंबित कर दिया है। बताया जाता है हादसे की जानकारी पुलिस निरीक्षक राहुल जगदाले व विश्वनाथ टोडकरी को मिल गई थी लेकिन उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित नहीं किया।

Author
Related Post
ads

Latest Post