Search
Close this search box.
> टी20 वर्ल्ड कप: पूर्व इंग्लैंड खिलाड़ी ने लगाया तीखा, भारतीय टीम को बताया ‘खतरनाक नहीं’

टी20 वर्ल्ड कप: पूर्व इंग्लैंड खिलाड़ी ने लगाया तीखा, भारतीय टीम को बताया ‘खतरनाक नहीं’

T20 World Cup: Former England player takes a dig, tells Indian team 'not dangerous'

टी20 वर्ल्ड कप का आगाज नजदीक है और सभी टीमें अपनी तैयारियां पूरी कर चुकी हैं. रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टीम इस विश्व कप में उतरेगी. हमेशा की तरह इस बार भी भारतीय टीम मजबूत दावेदार मानी जा रही है, लेकिन लगता है पूर्व इंग्लैंड क्रिकेटर डेविड लॉयड की राय कुछ और ही है. उनका कहना है कि भारतीय टीम का इस टूर्नामेंट में ज्यादा जलवा नहीं चल पाएगा क्योंकि हर टीम ने अब इस टीम को समझ लिया है और यह टीम अब खतरनाक नहीं रही.

अमेरिका और वेस्टइंडीज में 2 जून से होने वाले टी20 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम ग्रुप A में शामिल है और अपना अभियान 5 जून को आयरलैंड के खिलाफ मैच से शुरू करेगी. 2013 के बाद से आईसीसी टूर्नामेंटों में भारत का रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है और टीम लंबे समय से खिताबी जीत से दूर है. भारतीय टीम लगातार नॉकआउट चरण में तो पहुंच ही जाती है, लेकिन विजेता बनने से चूक जाती है.

‘भारत अब बन चुकी है पूर्वानुमानित टीम’

लॉयड का कहना है कि, “भारतीय टीम अब एक पूर्वानुमानित टीम बन गई है. मुझे लगता है कि विपक्षी टीम को प्रतिभा को स्वीकार करना चाहिए. भारत के पास अच्छे खिलाड़ी हैं, लेकिन वे गेंद या बल्ले से जोखिम नहीं लेते. हां, यह टीम अपने दिन बहुत अच्छी है, लेकिन भारतीय टीम अब खतरनाक नहीं है.”

चयनकर्ताओं ने जताया था रोहित-कोहली पर भरोसा

टी20 वर्ल्ड कप से पहले भारतीय टीम के सीनियर खिलाड़ियों को लेकर काफी चर्चा हुई थी, लेकिन एक बार फिर चयनकर्ताओं ने रोहित शर्मा और विराट कोहली जैसे अनुभवी खिलाड़ियों पर भरोसा जताया और उन्हें टीम में शामिल किया. वहीं युवा बल्लेबाज रिंकू सिंह को रिजर्व में जगह दी गई. रोहित 2022 टी20 वर्ल्ड कप में ज्यादा कमाल नहीं दिखा पाए थे और उन्होंने छह पारियों में 116 रन बनाए थे और उनका स्ट्राइक रेट 106.42 रहा था. उन्होंने सिर्फ नीदरलैंड्स के खिलाफ अर्धशतक लगाया था. वहीं दूसरी तरफ कोहली के स्ट्राइक रेट को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं. 35 वर्षीय कोहली ने आईपीएल 2024 के पहले चरण में धीमी बल्लेबाजी की थी, लेकिन बाद में तेज बल्लेबाजी करके आलोचकों का मुंह बंद कर दिया. बता दें कि भारतीय टीम ने 2007 में पहला टी20 वर्ल्ड कप खिताब जीता था और उसके बाद से टीम कभी भी यह ट्रॉफी नहीं जीत पाई है.

Author
Related Post
ads

Latest Post